• Uncategorized

    बहोत ही प्यारी कहानी है!

    एक बार एक वकील कोर्ट में भारत के 46 स्वतंत्र सेनानियों की केस लड़ रहे थे जिन्हें अंग्रेजोनो फांसी की सजा सुनवाई थी! उसी दौरान एक कर्मचारी उस वकील को एक छोटी चिट्ठी देके चला जाता है। वकील उस चिट्ठी को पढ़कर बाजूमें रख देता है और अपनी बहस जारी रखता है। कोर्ट की कार्यवाही खत्म होने के बाद जज उस वकील से पूछते है कि उस चिट्री में क्या लिखा है! वकील कहता है कि ये मेरे पत्नी के निधन का समाचार था ! ये सुनकर आश्चर्य से जज ने पूछा चिट्ठी मिलते ही तुम उसके पास क्यो नही गए ! तब वकील बोले ” मेरी पत्नी तो मर…

  • Uncategorized

    तेरे होंठ हैं, मेरे शब्द हो

    तेरे होंठ हैं, मेरे शब्द हो   तेरे होंठ हैं, मेरे शब्द हो और अनकही सी बात हो अहसास तेरा जो दे मुझे ऐसी कभी बरसात हो मै छोड़ता जग जा रहा फिर भी मगर सब पा रहा तेरे रूह मुझे है मिल गई अब काया में क्या बचा रहा महसूस कर न सके कोई, वैसे अनगिनत जज्बात हो तेरे होंठ हैं, मेरे शब्द हो और अनकही सी बात हो दिल था कहाँ इस अंग में चल पड़ा था तेरे संग में माटी सा बन गया हु मै जो ढल रहा तेरे संग में नजरे मिले और दिल खिले ऐसा कभी एक साथ हो तेरे होंठ हैं, मेरे शब्द हो…

  • Uncategorized

    करोना चला जायेगा।

    मत रौ बेटा #कॉरोना चला जायेगा। हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी है ना, वो खुद निपट ले गये। उन्हें हर संकट से बाहर निकलना आता है, कुछ नही होगा देश को, कुछ नही होगा जनता को, लॉक डाउन कर दिया तो क्या बात हुई, कुछ दिनों की तो बात है। बेटा जनता कर्फ़्यू लगाना बहुत जरूरी था, #कॉरोना जैसी बीमारी को रोकना है, कन्ट्रोल करना है, जड़ से ख़त्म करना है, इस लिए हमे आपस में मिलकर सरकार और प्रशासन का सहयोग देना होगा। सरकार के नियमो का पालन करना होगा। बस चुप हो जा, मुझे पता है स्कूल कॉलेज बंद है। बचों की पढ़ाई खराब हो रही…